Princes story in hindi. New princess story in hindi 2022-10-23

Princes story in hindi Rating: 8,5/10 1531 reviews

प्रिंस की कहानी हिंदी में

प्रिंस एक युवा था जो एक राजकुमार था। उसके परिवार में एक समुदाय था जो अपनी राजधानी में रहता था। प्रिंस के पिता एक बहुत ही सम्मानजनक और सम्मानित व्यक्ति थे जो अपने समुदाय की सुरक्षा और सशक्तिकरण का ध्यान रखते थे।

प्रिंस की माता एक बहुत ही सुन्दर और स्वामिक व्यक्ति थी जो अपने परिवार की सुरक्षा और सुख के लिए जितनी जगह हो सके मेहनत करती थी।

प्रिंस अपने बचपन से ही एक बहुत ही आचार्यवान और शिक्षित युवा था। उसने अपने बचपन से ही अधिकांश शिक्षा अपने माता-पिता से ही हासिल की थी। उ

12 dancing Princess Story Hindi

princes story in hindi

इस संबंध में उन्होंने कई संदेशे राजा-रानी के पास भेजे. युवक भी उनके पीछे हो लिया. साथ ही उसे राजा का उत्तराधिकारी भी घोषित कर दिया जायेगा. सिन्ड्रेला की कहानी एक नगर में एक धनी व्यापारी रहा करता था. राजा उन्हें राजकुमारियों के कक्ष के साथ वाले कक्ष में ठहराता, ताकि उन्हें निगरानी करने में कोई असुविधा ना हो.

Next

Story of Princess in Hindi " मेरे सपनो का राजकुमार "

princes story in hindi

साथ ही यह हिदायत भी दी कि इस गेंद को मत गुमाना. ऐसे मौसम में आगे जाना संभव नहीं, इसलिए रात गुज़ारने इस राज्य के राजा की शरण में आई है. राक्षस ब्यूटी से मन ही मन प्यार करने लगा था. राजमहल के ऊपर छाये काले बदल हट गए और वहाँ सूर्य फिर से चमकने लगा. कुछ ही दूर रोशनी से जगमगाता एक शानदार महल था. उसकी दशा देख किसी को विश्वास नहीं हो रहा था कि वह राजकुमारी है.

Next

New princess story in hindi

princes story in hindi

रोजामांड भी तितली के पीछे मीनार में चली गई. लेकिन रात होते ही राजकुमार गहरी नींद में सो जाते और सुबह होने पर देखते कि राजकुमारियों के जूते फ़टे हुए हैं. लेकिन इस बार वह सावधान था. बिन माँ की बच्ची एला को उसके पिता बहुत प्यार करते और उसकी हर ज़रूरतों का ख्याल रखते थे. ऐसे में राजा भारमल कछवाहा ने अपनी बेटी हरखा की शादी अकबर से करा दी थी. कई राजकुमारों को रहस्य का पता न लगा पाने के कारण अपने प्राण देने पड़े. राजकुमारियाँ भी राजकुमारों के साथ नृत्य करने लगी.

Next

Princess Story in Hindi

princes story in hindi

उसने राजा को अपने आने का प्रयोजन बताया, तो राजा के राजकुमारियों के कक्ष के निकट एक कक्ष में उसके रहने की व्यवस्था कर दी. राजा-रानी चाहते थे कि राजकुमार का विवाह ऐसी लड़की से हो, जो सुंदर हो, समझदार हो, संवेदनशील हो और हर तरह से राजकुमार के योग्य हो. एक दिन व्यापारी को कहीं से ख़बर मिली कि उसके लापता जहाजों में से एक जहाज बंदरगाह पहुँच गया है. वह बहुत सुंदर और दयालु होने के साथ ही बुद्धिमान भी थी. वह ब्यूटी को समझाने लगा कि वह इतना स्वार्थी नहीं कि अपनी जान बचाने के लिए अपनी बेटी को एक राक्षस के हवाले कर दे.

Next

Princess Story in Hindi for Kids: राजकुमारी का स्वाभिमान

princes story in hindi

आप मुझे उस राक्षस के पास छोड़ दीजिये. उनके मुताबिक अकबर की चौथी पत्नी का नाम हीराकंवर यानि की हरखा बाई था. अब वह वापस घर के लिए रवाना होने तैयार था. अब राजकुमार भी अपने प्राणों के भय से इस रहस्य का पता लगाने में हिचकने लगे. राजकुमारी के १६वें जन्मदिवस के दिन राजा ने उसे बुलाया और उपहार में एक सुनहरी गेंद दी. यह सुनकर रानी विलाप करने लगी.

Next

Aladdin Story in Hindi: अलादीन और शहजादी की कहानी

princes story in hindi

क्या तुम भी सूत कातना चाहोगी? उस बच्ची के मुख पर सूर्य की किरणों सी चमक थी. जलसे के दिन सिन्ड्रेला को दुगुना काम सौंपकर उसकी सौतेली माँ अपनी दोनों बेटियों के साथ जलसे में चली गई. वह घर का सारा काम ख़ुशी-ख़ुशी करती और हर समय ख़ुश रहती थी. उसी दिन रोजामांड और राजकुमार का विवाह कर दिया गया. जंगल पार कर राजकुमारियाँ एक झील के किनारे पहुँची, जहाँ बारह नावों में बारह राजकुमार उनका इतंजार कर रहे थे.

Next

Princess Story In Hindi राजकुमारी की अलौकिक प्रेम कथा

princes story in hindi

सबने रोजामांड और राजकुमार इवान का स्वागत किया. राजा ने अपना वचन निभाते हुए युवक से पूछा कि वह किस राजकुमारी से विवाह करना चाहता है. एक दिन इवान नामक राजकुमार ने सोयी हुई राजकुमारी की कहानी सुनी. उस राज्य के एक गाँव में एक गरीब युवक रहता था. हरखा बाई का रसूख मुगल दरबार में अकबर के वक्त भी था और अकबर की मौत के बाद भी ये कम नहीं हुआ.

Next

trending A Tale of Rajasthan Princes In whose love Akbar gave up eating beef

princes story in hindi

उसने तय किया कि वह आज की पूरी रात जागेगा और बूढ़ी औरत की दी हुई जादुई टोपी पहनकर राजकुमारियों के कक्ष में जाकर निगरानी करेगा. तब राजा ने उसे समझाया कि हमें रोजामांड को लेकर महल चलना चाहिए क्योंकि कुछ ही देर में हम सब भी सो जायेंगे. द्वारपाल उसे राजा-रानी के पास ले गया. रात में उसे गहरी नींद आई. १ वर्ष बाद रानी ने एक ख़ूबसूरत बच्ची को जन्म दिया. इस नुकसान से उसका पूरा व्यवसाय बर्बाद हो गया. वह राजकुमार का हाथ छुड़ाकर महल के बाहर खड़ी बग्गी की ओर भागी.

Next